योगी सरकार को देवबंद की पेशकश: ‘आईसोलेशन वार्ड’ के लिए दारूल उलूम की बिल्डिंग कर सकते हैं उपयोग

0
161

देवबंद:कोरोना वायरस के क़हर से पूरा भारत कराह रहा है.इस वैश्विक महामारी से मानवता ख़तरे में है.ऐसे में हर आदमी,संस्था और सरकार ने कोरोना से लड़ने के लिए कमर कस ली है.इस लड़ाई में अपनी सेवा और योगदान देने वालों की कमी नहीं है.भयावह स्तिथि को देखते हुए देश के सबसे बड़े इस्लामिक संस्था दारूल उलूम देवबंद ने उत्तरप्रदेश सरकार को अपना योगदान देने की पेशकश की है.

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी को लिखे पत्र में इस संस्था ने कहा है कि कोरोना के प्रकोप को रोकने के प्रयासों में हम देश के साथ खड़े हैं.उत्तरप्रदेश के सहारनपुर जिला स्थित इस संस्था के मोहतमिम मौलाना मुफ़्ती अबुल क़ासिम नोमानी ने मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में कहा है कि इस संबंध में संस्था ने निर्णय लिया है कि विषम परस्तिथियों के समय दारूल उलूम देवबंद की जीटी रोड के निकट स्थित

बिल्डिंग दारूल क़ुरआन को रोगियों के उपचार के लिए आईसोलेशन वार्ड के रूप में उपयोग किया जा सके.यदि विषम परस्तिथियों में प्रशासन आवश्यकतानुसार दारूल उलूम देवबंद प्रबंधन से संपर्क कर उक्त भवन को आईसोलेशन वार्ड में तब्दील कर उपयोग करना चाहे तो संस्था इस सेवा के लिए तैयार है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here