मोदी सरकार ने पेट्रोलियम और गैस के माध्यम से जेब हल्की योजना चलाकर लोगों को संकट में डाला:एजाज़

0
5

पटना: राष्ट्रीय जनता दल के वरिष्ठ नेता एजाज अहमद ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार ने देशवासियों के लिये एक नई योजना पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस के माध्यम से जेब हल्की योजना चलाई है। देश के लोग पहले से ही लॉकडाउन, जीएसटी और नोटबंदी के बाद से संकट और परेशानियों का सामना कर रहे हैं।वहीं मध्यम वर्ग के लोगों का आय का स्रोत काफी कम हो गया है, जबकि किसान – मजदूर बेबसी और भुखमरी की स्थिति में पहुंच गए हैं। जहां देश का किसान -मजदूर ,छात्र -नौजवान महिलाएं और कामकाजी वर्ग सड़कों पर आ गया है, वहीं दूसरी ओर अच्छे दिन के नाम पर लोगों के लिये जेब हल्की योजना धरातल पर चलाई जा रही है, 2014 से केंद्र सरकार ने जितनी भी योजनाएं चलाई है वह धरातल पर नहीं उतरी लेकिन एक योजना धरातल पर पूरी तरह से सफल है ” जेब हल्की योजना ” और इस को सफल बनाने में जितने भी मंत्री और पदाधिकारी हैं उनको प्रशस्ति पत्र और शाबाशी दिया जाना चाहिए, क्योंकि देश के लोगों को संकट और परेशानी में डालने वाला ये योजना पूरी तरह से सफल है।
एजाज ने आगे कहा कि अब अच्छे दिन के नाम पर लोगों को ऐसे ही दिन देखने के लिए मजबूर किया जाएगा जहां एक तरफ किसान एमएसपी कानून बनाने की बात कर रहे हैं वहीं देश के किसानों को दिग्भ्रमित करने के लिए नरेंद्र मोदी नीति आयोग की बैठक में किसानों की आय को दोगुना करने की योजना पर बात कर रहे हैं, जबकि यह सारी बातें निराधार और किसानों को भ्रम में करने वाला है ,दरअसल कारपोरेट घरानों को फायदा पहुंचाने की नियत से ही किसानों के तीनों काला कानून को लागू किया गया है।
उन्होने आगे कहा कि इसके खिलाफ राष्ट्रीय जनता दल तेजस्वी प्रसाद यादव के नेतृत्व में जन अभियान चलाकर देश के जेब हल्की योजना के खिलाफ लोगों को संघर्ष और आंदोलन में खड़े होने का आह्वान करता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here