शहाबुद्दीन की पत्नी हिना शहाब रघुनाथपुर से लड़ेंगी चुनाव!

0
257

पटना(सेराज अनवर)सीवान संसदीय सीट से प्रत्याशी रह चुकी हीना शहाब विधानसभा चुनाव लड़ने जा रही हैं.हिना, पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन की पत्नी हैं.तीन बार लोकसभा चुनाव लड़ चुकी हैं.सफलता हाथ नहीं लगी .शहाबुद्दीन दिल्ली के तिहाड़ जेल में बंद हैं.पूर्व सांसद अपने पिता शेख मोहम्मद हसीबुल्लाह के नमाज़ ए जनाज़ा में शामिल होना चाहते थे.उनकी ओर से जेल प्रशासन को पैरोल की अर्जी दाखिल की गई थी लेकिन स्वीकृति नहीं मिली .उनके पिता का इंतेक़ाल गत महीने हुआ है.हिना शहाब पति शहाबुद्दीन की राजनीतिक विरासत संभाल रही हैं.बेटा ओसामा शहाब अभी मां के साये में राजनीतिक गुर सीख रहे हैं.चर्चा ओसामा के ही चुनाव लड़ने की थी.अब ख़बर है कि हिना शहाब को चुनाव लड़ने के लिए रज़ामंद किया जा रहा है.यदि वह तैयार हो जाती हैं तो रघुनाथपुर से चुनावी महासमर में कूदेंगी.लंबे अर्से के बाद शहाबुद्दीन घराने से कोई सदस्य विधानसभा चुनाव लड़ेगा.शहाबुद्दीन एक बार निर्दलीय विधानसभा चुनाव जीतने के बाद लोकसभा के चुनाव लड़ते रहे हैं.वे यहां से चार बार सांसद चुने गये.1996 में शहाबुद्दीन पहली बार राजद के टिकट पर सांसद निर्वाचित हुए.

हिना शहाब के पुत्र ओसामा

1990 में पहली बार शहाबुद्दीन विधायक बने.जीरादेई विधानसभा सीट से दो बार विधायक रह चुके हैं.हिना शहाब के विधानसभा चुनाव लड़ने के पीछे भी राजनीतिक कारण छिपा है.सलाखों के पीछे रहने से शहाबुद्दीन की राजनीतिक विरासत सिमटती जा रही है.राजद में भी उनका सिक्का पहले की तरह चल नहीं रहा है.लालू प्रसाद रांची जेल में हैं और शहाबुद्दीन दिल्ली के जेल में.राजद में उनका संपर्क सूत्र लगभग टूट सा गया है.शहाबुद्दीन के न चाहते हुए भी उनकी सल्तनत(सीवान) में माले को राजद ने गठबंधन में दो सीट थमा दिये.इससे नाराज़ हो कर हिना शहाब राजद की राष्ट्रीय कार्यकारिणी समिति से इस्तीफ़ा देने का मन बना चुकी थीं.सीवान में शहाबुद्दीन की लड़ाई माले से रही है.माले के मज़बूत होने से शहाबुद्दीन कमज़ोर पड़ते जा रहे हैं.शहाबुद्दीन के राजनीतिक साम्राज्य को बचाने के लिए हिना शहाब का शायद यह आख़री दांव हो.तीन बार से वे लोकसभा चुनाव हार रही हैं.उनका विधानसभा चुनाव लड़ने का अधिकारिक घोषणा अभी नहीं हुई है,मगर शुक्रवार को यह चर्चा ज़ोर पकड़ रही है.यदि वे चुनाव में उतरती हैं तो सीवान का सियासी मंज़रनामा बदल जायेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here