सुशासन बाबू को रावण का घमंड हो गया है,तीसरा मोर्चा बनेगा विकल्प:नागमणि

0
38

पटना(शाद हुसैन)पूर्व केंद्रीय मंत्री नागमणि ने बिहार की राजग सरकार पर हमला बोलते हुए कहा है कि नीतीश सरकार हर मोर्चे पर विफल है। सुशासन बाबू को रावण का घमंड हो गया है। शुरू के 5 साल के शासन में काम हुआ मगर 10 साल तक नीतीश सरकार ने सिर्फ मस्ती किया। उन्होंने बताया कि सत्ता परिवर्तन के लिए बिहार में तीसरा मोर्चा बन गया है,जिसमें पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ,पूर्व केंद्रीय मंत्री नागमणि ,पूर्व केंद्रीय मंत्री देवेन्द्र यादव ,पूर्व सांसद अरुण कुमार ,पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह पूर्व मंत्री पूर्णमासी राम,पूर्व मंत्री रेणु कुशवाहा, मुसलमानों के सुप्रीम नेता अशफाक़ रहमान , इश्तियाक़ भाई, अतिपिछड़ा के नेता सत्यानंद शर्मा, पूर्व विधायक सिद्धनाथ राय तथा अन्य नेताओं का कारवां पूरे बिहार के सभी जिला में घूमेगा .जिसका नाम जन संवाद यात्रा रखा गया है ।

बिहार में तीसरा मोर्चा बन गया है,जिसमें पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ,पूर्व केंद्रीय मंत्री नागमणि ,पूर्व केंद्रीय मंत्री देवेन्द्र यादव ,पूर्व सांसद अरुण कुमार ,पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह पूर्व मंत्री पूर्णमासी राम,पूर्व मंत्री रेणु कुशवाहा, मुसलमानों के सुप्रीम नेता अशफाक़ रहमान , इश्तियाक़ भाई, अतिपिछड़ा के नेता सत्यानंद शर्मा, पूर्व विधायक सिद्धनाथ राय तथा अन्य नेताओं का कारवां पूरे बिहार के सभी जिला में घूमेगा .

कार्यकर्म का आग़ाज़ 7 जुलाई को पटना के कारगिल चौक से होगा.रास्ते भर क़ाफ़िला का हर प्रखंड,बाज़ार में स्वागत होना है साथ में प्रेस कॉन्फ़्रेंस का आयोजन भी होगा.यह यात्रा 7 जुलाई को पटना से जहानाबाद होते हुए गया में पड़ाव,8 जुलाई को शेरघाटी, औरंगाबाद ,डेहरी -9 जुलाई को सासाराम, भभुआ -10 जुलाई राजपुर ,बक्सर – 11 जुलाई को बक्सर से आरा के बीच सभी जगहों पर स्वागत होगा। छपरा में 5 बजे नागरिकों को संबोधित किया जाएगा। 12 जुलाई को सिवान , गोपालगंज -13 जुलाई को बेतिया मोतिहारी -14 जुलाई को सीतामढ़ी, मुजफरपुर -15 जुलाई को समस्तीपुर, हाजीपुर में संवाददाता सम्मेलन तथा नागरिकों को संबोधित किया जाएगा। नागमणि का कहना है कि तीसरा मोर्चा बिहार का पहला विकल्प साबित होगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here